नन्हे दोस्तों को समर्पित मेरा ब्लॉग

दूरभाष : नई कविता : रावेंद्रकुमार रवि

>> Sunday, July 17, 2011

दूरभाष


हैलो, सागर!

मैं वर्षा बोल रही हूँ!
मैं संध्या के साथ
आ रही हूँ,
तुमसे मिलने!

वसुधा से कहना
वह प्रतीक्षा न करे!
आकाश उससे
कभी नहीं मिलेगा!

वैसे
समीर के हाथों
मैंने संदेश भेज दिया है
नीरद व्याकुल है
उससे मिलने के लिए
गिरीश के लिए!

रावेंद्रकुमार रवि 

13 टिप्पणियाँ:

Udan Tashtari July 18, 2011 at 12:12 AM  

बहुत बढ़िया...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) July 24, 2011 at 6:52 PM  

रचना में शब्दों का
बहुत ही अनूठा प्रयोग किया गया है!
--
इस मनभावन पोस्ट को
प्रकाशित करने के लिए धन्यवाद!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) July 24, 2011 at 8:30 PM  

आपकी इस उत्कृष्ट प्रविष्टी की चर्चा कल सोमवार के चर्चा मंच पर भी की गई है!
यदि किसी रचनाधर्मी की पोस्ट या उसके लिंक की चर्चा कहीं पर की जा रही होती है, तो उस पत्रिका के व्यवस्थापक का यह कर्तव्य होता है कि वो उसको इस बारे में सूचित कर दे। आपको यह सूचना केवल इसी उद्देश्य से दी जा रही है! अधिक से अधिक लोग इस ब्लॉग पर पहुँचेंगे तो हमारा भी प्रयास सफल होगा!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) July 24, 2011 at 8:31 PM  
This comment has been removed by the author.
ana July 25, 2011 at 8:10 AM  

shabdo ka behatarin prayog....bahut achchha

देवेन्द्र पाण्डेय July 25, 2011 at 8:45 AM  

सुंदर शब्द प्रयोग।

S.M.HABIB July 25, 2011 at 8:48 AM  

वाह...

mahendra srivastava July 25, 2011 at 5:07 PM  

वाह क्या बात है
बहुत सुंदर

Dorothy July 25, 2011 at 10:27 PM  

खूबसूरत शब्द संयोजन...सुंदर प्रस्तुति. आभार.
सादर,
डोरोथी.

Kailash C Sharma September 27, 2011 at 8:08 PM  

बहूत सुन्दर..

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार September 28, 2011 at 4:13 PM  






आपको सपरिवार
नवरात्रि पर्व की बधाई और शुभकामनाएं-मंगलकामनाएं !

-राजेन्द्र स्वर्णकार

सतीश सक्सेना October 13, 2011 at 8:41 AM  

बहुत खूब ....
शुभकामनायें आपको !

KAHI UNKAHI November 3, 2011 at 10:49 AM  

यह अनोखी दूरभाषीय वार्ता बहुत पसन्द आई...बधाई...।

प्रियंका गुप्ता

Related Posts with Thumbnails

"सप्तरंगी प्रेम" पर पढ़िए मेरे नवगीत -

आपकी पसंद

  © Blogger templates Sunset by Ourblogtemplates.com 2008

Back to TOP